रसायन विज्ञान प्रश्नोत्तरी ___[सामान्य ज्ञान]-भाग २

Oct 20, 2010

प्रश्न: १ आवर्त सारणी में तीसरे आवर्त में कितने तत्व होते हैं?

उत्तर: आठ

प्रश्न: २ प्रत्येक क्षार की संयोजकता कितनी होती है?

उत्तर: +1

प्रश्न: ३ सीमेंट का जमकर कठोर होने का कारण क्या है?

उत्तर: जल-योजन व जल-अपघटन

प्रश्न: ४  सीमेंट के प्रयोग में बालू का क्या उपयोग होता है?

उत्तर: सीमेंट जल या नमीं का अति सुग्राही है| नमीं के कारण इसमे आंतरिक प्रतिबल उत्पन्न हो जाता है, जिससे इसमे दरार पड जाती है और इसकी क्षमता कम हो जाती है | बालू मिलाने से सीमेंट में आंतरिक प्रतिबल नहीं उत्पन्न होता है, जिससे सीमेंट में दरार नहीं पड़ती |

प्रश्न: ५ काँच क्या है?

उत्तर: काँच अक्रिस्टलीय ठोस के रूप में एक अतिशीतित (supercooled) द्रव है , इसीलिए काँच की कोई क्रिस्टलीय सरंचना नहीं होती और न ही इसका कोई निश्चित गलनांक होता है | इसका संघटन परिवर्तनीय है |

aR2O.bMO.6SiO2break-glass

जहाँ R = एक-संयोजक क्षार धातु; जैसे – Na, K आदि | 

M = द्वि- संयोजक क्षार धातु; जैसे – Ca, Pb आदि |

a तथा b अणुओं की संख्या

प्रश्न: ६  काँच को नींबू सा पीला रंग प्रदान करने के लिए कौन सा पदार्थ उपयोग में लाया जाता है ?

उत्तर: कैडमियम सल्फाईड

प्रश्न:७ कौन सी गैस (कोई एक उदहारण दीजिए) को जल के ऊपर इकट्ठा नहीं किया जा सकता ?

उत्तर: SO3

प्रश्न: ८ शुष्क बर्फ क्या होती है ?

उत्तर: ठोस कार्बन-डाई-आक्साईड

प्रश्न: ९ दियासलाई की तीलियों में जलने वाला पदार्थ क्या होता है ?

उत्तर: K2Cr2O7 + S + P

10 comments:

Neeraj Rohilla said...

वाह,
बहुत कुछ पुराना जो भूल सा गये थे फ़िर से याद आ गया।

बहुत धन्यवाद इस पोस्ट का.

SHUBHAM SRIVASTAVA said...

VERY GOOD

SHUBHAM SRIVASTAVA said...

VERY GOOD

SHUBHAM SRIVASTAVA said...

VERY GOOD

Amit saini said...

THANKS

Anonymous said...

bahut ache sawal hai please give me 11 class questain?

Deepak Kumar said...

nyc.

RAHUL YADAV said...

THANK U

Santosh Singh said...

धन्यवाद

Indu singh said...

I like your post,
www.jkhealthworld.com का प्रयास हर तरह की स्वास्थ्य से संबंधित समस्याओं की इंफार्मेशन उपलब्ध कराना है। आप अपना कीमती सलाह और योगदान हमारी साइट पर पोस्ट करके जनहित के लिए अच्छा काम करने में हमारे सहयोगी बने।
Naturopathy information and treatment in india