दूध में मिलावट की जांच कैसे करें

Jan 17, 2011

स्वास्थ्य के लिए सबसे पहले सलाह दी जाती है, वो होती है “दूध” सेवन की | इसे सर्वोत्तम माना गया है |दूध अपने आप में सम्पूर्ण आहार है।

पर ….शहरी क्षेत्रों में आपको शुद्ध दूध मिलना तो मुश्किल ही है | वहीँ मिलावटी दूध उतना ही स्वाथ्य के लिए नुकसान देय हो सकता है |

कैसे पता करें ..उसमे मिलावट ?

 

दूध में सामान्यतः पानी, सप्रेटा,स्टार्च की मिलावट हो सकती है | दूध की शुद्धता लैक्टोमीटर(Lactometer) से मापी जाती है | इसकी रीडिंग 28 से 32 होनी चाहिए |  अगर ये रीडिंग 28 से नीचे जाती है तो पानी की मिलावट शर्तियाँ है |

TESTING-MILK

 

आजकल, लेकिन मिलावट-कर्ता रीडिंग बढाने के लिए यूरिया, चीनी, स्टार्च जैसे पदार्थों का भी कर रहे हैं , यहाँ तक की Ezee Shampoo और रिफाईंड आयल,डिटर्जेट,सोडा आदि मिला रहे हैं |


अन्य तरीके:

  • अगर दूध स्टार्च मिश्रित है, तो उसे आयोडीन मिलाकर गरम करने से दूध का रंग नीला हो जाएगा |
  • दूध में बराबर मात्रा में एल्कोहल मिलाने से घटिया किस्म का दूध फट जाता है |
  • पॉलिश की गई किसी खड़ी सतह पर दूध की एक बूंद गिराएं, गिरने की रफ्तार धीमी हो और पीछे सफेद निशान छोड़े तो साफ है कि मिलावट नहीं है।
  • दूध में पानी की मिलावट की जांच के लिए चिकनी सतह पर दूध की बूंद गिराएं। अगर पानी मिला है तो वह बिना कोई निशान छोड़े तेजी से आगे बह जाएगा। शुद्ध दूध धीरे-धीरे बहेगा और सफेद धब्बा रह जाएगा।

2 comments:

राज भाटिय़ा said...

अच्ची जनकारी भरत आ कर जब भी दुध खरीदेगे या पीयेगे तो सब से पहले यही करेगे, धन्यवाद

हल्ला बोल said...

यदि आप भारत माँ के सच्चे सपूत है. धर्म का पालन करने वाले हिन्दू हैं तो
आईये " हल्ला बोल" के समर्थक बनकर धर्म और देश की आवाज़ बुलंद कीजिये... ध्यान रखें धर्मनिरपेक्षता के नाम पर कायरता दिखाने वाले दूर ही रहे,
अपने लेख को हिन्दुओ की आवाज़ बनायें.
इस ब्लॉग के लेखक बनने के लिए. हमें इ-मेल करें.
हमारा पता है.... hindukiawaz@gmail.com
समय मिले तो इस पोस्ट को देखकर अपने विचार अवश्य दे
देशभक्त हिन्दू ब्लोगरो का पहला साझा मंच
हल्ला बोल